Search
Close this search box.

Mpox increasing worldwide now Pakistan reports two monkeypox cases दुनियाभर में बढ़ रहा एमपॉक्स का खतरा, अब पाकिस्तान में पहुंचा ये संक्रमण, मिले पहले 2 मरीज

Share this post

प्रतीकात्मक फोटो- India TV Hindi
Image Source : REPRESENTATIVE IMAGE
प्रतीकात्मक फोटो

दुनियाभर में एमपॉक्स का खतरा धीरे-धीरे बढ़ रहा है। अब पाकिस्तान में एमपॉक्स के मामले दर्ज किए गए हैं, जिसे मंकीपॉक्स के नाम से जाना जाता था। इसकी घोषणा पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने की। रिपोर्ट के मुताबिक, मंत्रालय ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ ने दो मरीजों में एमपॉक्स संक्रमण की पुष्टि की।  

विदेश से पाकिस्तान आने वाले लोगों में मंकीपॉक्स के पहले दो मामलों का पता लगाया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि एक शख्स को सऊदी अरब से डिपोर्ट किया गया था और 17 अप्रैल को उसमें मंकीपॉक्स के लक्षण पाए गए। इसी बीच, फ्लाइट में उनके साथ बैठे एक अन्य शख्स में भी एमपॉक्स के लक्षण दिखे। ऐसे लोगों की पहचान गोपनीय रखी गई है।

रिश्तेदारों की जांच की जा रही: अधिकारी 

अधिकारियों ने कहा कि संक्रमित लोग रावलपिंडी या इस्लामाबाद के निवासी हैं और अब उनके रिश्तेदारों की जांच की जा रही है। जांच अधिकारी ये सुनिश्चित करना चाहते हैं कि कोई और तो संपर्क में नहीं आया है। वो चाहते हैं कि किसी भी तरह से वायरस न फैलें। इसके लिए अधिकारियों ने कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग भी शुरू कर दी है। संक्रमित व्यक्तियों में एक को पाकिस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में भेज दिया गया है। वहीं, दूसरे को उसके घर में ही क्वारंटाइन किया गया है।

मंत्रालय ने कहा कि मामले का पता चलने के बाद पाकिस्तान के सभी एयरपोर्ट के अधिकारी स्वास्थ्य नियामक दिशा-निर्देशों को लागू कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीमा स्वास्थ्य सेवा पाकिस्तान पूरी स्थिति की निगरानी कर रही है। मंत्रालय ने कहा कि जनता को बीमारियों और महामारी से बचाने के लिए सभी आवश्यक उपाय सुनिश्चित किए गए हैं।

100 से ज्यादा देशों में मंकीपॉक्स के मामले

गौरतलब है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले साल से दुनियाभर में एमपॉक्स के मामले बढ़ रहे हैं। 1 जनवरी 2022 से 24 अप्रैल, 2023 के बीच एमपॉक्स के 87,113 मामले की पुष्टि हो चुकी है। मंकीपॉक्स का सबसे पहला मामला अफ्रीका में आया था। वहीं, पिछले साल 14 सितंबर 2022 को ग्लोबल लेवल पर 103 देशों में मंकीपॉक्स के मामले दर्ज किए गए थे। वहीं, मंकीपॉक्स से 136 लोगों की मौत हो चुकी है।

भारत में भी पिछले साल 2022 में मंकीपॉक्स का मामला सामने आया था। मंकीपॉक्स वायरस एक वायरल बीमारी है, जो ऑर्थो पॉक्स वायरस जीन्स की एक प्रजाति से पैदा होती है। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, मंकीपॉक्स में त्वचा पर लाल चकते या म्यूकोसल घाव हो जाते हैं।

Latest World News

Source link

Leave a Comment

ख़ास ख़बरें

विंध्याचल मंदिर से मुंडन संस्कार कराकर वापस जा रही बुलारो गाड़ी,खजुरी बाजार के पास खड़ी डंपर में जा भिड़ी, 10 लोग घायल

विंध्याचल मंदिर से मुंडन संस्कार कराकर वापस अपने घर तारुन जा रहे थे तभी खजुरी बाजार के पास खड़ी डंपर में टकरा गई…. भीटी अंबेडकर

Read More »

पुलिस आयुक्त, प्रयागराज द्वारा जनपद में VVIP आगमन, भ्रमण एवं जनसभा कार्यक्रम के दृष्टिगत दिए गए आवश्यक दिशा-निर्देश…..

  प्रयागराज मे पुलिस आयुक्त, प्रयागराज द्वारा जनपद में वीवीआईपी आगमन, भ्रमण एवं जनसभा कार्यक्रम के दृष्टिगत रिजर्व पुलिस लाइन सभागार में डी-ब्रीफिंग की गयी…..

Read More »

उत्तर मध्य रेलवे द्वारा,अनियमित यात्रा और स्टेशन परिसर/गाड़ी में गंदगी फ़ैलाने वाले 65 यात्रियों क़ो किया चालान

प्रयागराज से कानपुर सेन्ट्रल के मध्य 05 सुपरफास्ट गाड़ियों, 15483 अलीपुर द्वार-नई दिल्ली सिक्किम महानंदा एक्सप्रेस, 12311 हावड़ा-कोलकाता नेताजी सुपरफास्ट एक्सप्रेस, 12506 आनंद विहार टर्मिनल-कामाख्या

Read More »

ताजातरीन